Zindagi Attitude Shayari in Hindi 2 Line (BEST TOP 101)

Zindagi Attitude Shayari in Hindi 2 Line, Gajab Attitude Shayari in Hindi, attitude Shayari for ex girlfriend and boyfriend in Hindi, life attitude status in Hindi,


Zindagi Attitude Shayari in Hindi 2 Line

हेलो दोस्तो अगर आप अपने Social Media Page पर  पोस्ट करने के लिए Attitude Shayari ढूंढ रहे है तो हमारी यह Attitude Shayari Collection आपको जरूर पसन्द आएगी, हमने यहा पर बहुत सरे अच्छे अच्छे शायरी  Share किया है , आप इन Shayari को Copy करके Social Media पर Past कर सकते है.

कुत्ते भौंकते हैं अपनी मौजूदगी का एहसास दिलाने के लिए
हम तोए शेर हैं जहाँ जाते हैं छा जाते हैं...!!!

मैं लोगों की तरह मिलावट नहीं करता हु, मोहब्बत हो या नफ़रत जो भी करता हूँ 100% करता हूँ...!!!

 

Account का Balance, पिने की Capacity और जीने की Strength कम हो या ना हो, पर नाम 😎 का खौफ कभी कम नहीं होना चाहिये…!!!

 

दोस्ती अगर दिल ❤️ से हो तो जान भी दे सकते हैं, दुश्मनी अगर गलती से भी हुई तो जान भी ले सकते हैं…!!! 

 


मोहब्बत ❤️ करना हमारी बस की बात नहीं, और अगर हो गई तो उसे रोकना किसी के बाप की औकात नहीं…!!!

 

छोकरी बोली फोटो तो अच्छी लगा रखी है, मै बोला चांस मत मार तेरे से अच्छी पटा रखी है…!!!


 

वो बोली की मैं ब्यूटीफुल हसीना हूँ, मैंने बोल दिया मैं भी Romantic कमीना हूँ…!!!


जब मेरा Mood खराब होता है तो मेरे पास, हर बात का एक ही जवाब होता है कि पता नहीं...!!!


लोग कहते है की मेरा भी समय आयेगा, मै कहता हूँ मेरा समय मैं खुद लाऊंगा…!!! 


किसी को #नीचा दिखाना मेरी फितरत में नहीं, और कोई मुझे नीचा दिखा के बच जाए ये उसकी किस्मत में नहीं…!!! 


उगते हुए सूरज से मिलाते हैं निगाहें, हम गुजरी हुई रात का मातम नहीं करते...!!!


हमारी हिम्मत को परखने की गुस्ताखी न कर,

पहले भी कई तूफानों का रुख मोड़ चुके हैं हम...!!!


ठहर जाये जो दिल पे हमारे, 

मेरी जान तेरे सिवा है मजाल किसी की...!!!



दिलों में आग लगाना मेरी आदत में नहीं है,

मेरी सादगी से भी लोग जल जाएँ तो मेरा क्या कसूर...!!!


ख्वाब देखने से तो ख्वाब पूरे हो नहीं सकते कभी, 

इसलिये रहे-हक़ीक़त पर चला करता हूँ मैं...!!!


नाज़ क्या करना उस पे जो बदल दिया ज़माने ने तुम्हें, 

हम तो वह हैं जो ज़माने को बदल देते हैं...!!!


जन्म से हट कर चलना फितरत है, 

मेरी जिन पे बोझ डाला हो, वो कंधे हमेशा याद रखता हूँ...!!!


सिर्फ इसी उसूल पर गुजराती हूँ ज़िन्दगी अपनी,

जिसको अपना मान लेती हूँ उसे कभी परखटी नहीं...!!! 


यह मत समझ कि तेरे काबिल नहीं हूँ मैं, 

तड़प रहे हैं वह लोग जिन्हें हासिल नहीं हूँ मैं...!!!


मैं मुलाकातों के लम्हें याद रखती हूँ,

बातें भूल भी जाऊं पर लहजे याद रखती हूँ. 


आदतें अजीब हैं और गज़ब की फितरत है मेरी,

मोहब्बत हो या नफरत हो बहुत शिद्दत से करता हूँ...!!! 


सहारे ढूंढने की आदत नहीं मेरी, 

मैं अकेले पूरी महफ़िल के बराबर हूँ...!!!


रहते हैं आस-पास ही लेकिन पास नहीं होते, 

कुछ लोग मुझसे जलते हैं बस ख़ाक नहीं होते...!!!


मुझको मेरे वजूद की हद तक न जानिए, 

बेहद हूँ बेहिसाब हूँ बेइन्तहा हूँ मैं...!!!


खेल हो ताश का या हो ज़िन्दगी का… 

इक्का तब ही दिखाया जाता है, 

जब सामने बादशाह हो...!!!


शेर और हम अपनी ताकत से राजा कहलाते हैं, 

न जंगल में चुनाव होते न हमारे शहर में...!!!


ज़िंदगी का मज़ा तो सिर्फ दोस्ती में है, 

और पागल होने के लिए प्यार काफी है...!!!


जो आसानी से मिल जाये उसकी खाव्हिश कोण करते है, 

खाव्हिश तो उसकी है जिस के लिए मुकदर को हराना पड़े...!!!


मिज़ाज में थोड़ी सख्ती लाज़िमी है हुज़ूर, 

लोग पी जाते समंदर अगर खारा न होता...!!!


सहारे ढूढ़ने की आदत नहीं हमारी, 

हम अकेले पूरी महफ़िल के बराबर हैं...!!!

Post a Comment

Previous Post Next Post